Top 3 Essay about Spring Season in Hindi l वसंत ऋतु Nibandh

About Spring Season Essay in Hindi (Basant Ritu Par Nibandh) – नमस्कार दोस्तों, हमारे ब्लॉग tophindistories.com पर आपका स्वागत है !

आज का लेख बहुत ही interesting होने वाला है क्योंकि आज हम “Essay about Spring Season in Hindi (Basant Ritu par Nibandh) ”  के बारे में जानेंगे।

आप सभी जानते हैं, कि ज्यादातर लोग वसंत के मौसम (Basant ritu) को पसंद करते हैं ! तो, इस पोस्ट में हम “(Basant ritu in Hindi Essay)” पढ़ेंगे।
चलिए शुरू करते हैं…

Essay about Spring Season in Hindi

Basant ritu par Nibandh : 1

बसंत का मौसम (spring season) सभी के लिए pleasing मौसम होता है ! भारत में वसंत का मौसम (vasant ritu) मार्च, अप्रैल और मई के महीनों के दौरान पड़ता है !

यह सर्दियों के मौसम (winter season) के लंबे तीन महीनों के बाद आता है, जिसके दौरान लोग chilling cold से राहत महसूस करते हैं !

वसंत के मौसम में तापमान मध्यम हो जाता है और हर जगह blooming पेड़ों और फूलों के कारण हरा और रंगीन दिखता है।

एक लंबे इंतजार के बाद, आखिरकार समय आता है जब हम हल्के कपड़े पहनना शुरू करते हैं और अधिक बार outside the door जा सकते हैं ! छोटे बच्चे पतंगबाजी (kite flying) करते हैं !

Holi (होली) का त्यौहार इस मौसम की शुरुआत में आता है जब हर कोई रंगों और पानी से होली खेलकर वसंत (Basant ritu) के आने का पूरा आनंद लेते है ।

Essay about Spring Season in Hindi

Basant ritu par Nibandh : 2

वसंत, भारत में सबसे रमणीय (delightful) मौसम है !  इस मौसम में हर कोई सर्दियों के मौसम की तीव्र ठंड के बाद खुशी महसूस करते है !

हम सभी outdoor life के आनंद लेते हैं ! पूरी पृथ्वी हरे रंग की पोशाक पहनती है और फिर से नया जीवन में आती है।

वसंत के मौसम (vasant ka mausam) में प्रकृति दयालु होती है ! यह हमें खुशी और आनंद देती है।  पेड़ एक बार फिर ताजे और प्यारे लगते हैं !

वे अपनी खोई हुई पत्तियों को वापस पा लेते हैं ! पक्षी सर्दियों में चुप थे, अब वे गाने गाते हैं ! वे अपने प्यारे songs के साथ भगवान का शुक्रिया अदा करते हैं।

प्रकृति हमारी भूखी आँखों (hungry eyes) को grand feast देती है ! यह हमें बाहर आने और दुनिया की खुशी में भाग लेने के लिए आमंत्रित करती है ! यह हमारी भूखी आँखों के लिए एक सुंदर दृश्य प्रस्तुत करती है।

Basant ritu par nibandh
  • Save

वसंत के मौसम (spring season in Hindi) में,

हमें नई ताकत मिलती है ! शांत हवा (cool breeze) हमें खुले में आने के लिए आमंत्रित करती है ! प्रकृति का सुंदर दृश्य को देखने के लिए फूलों की कतारें (buds) झांकती हैं !

फूल उनकी मीठी गंध (sweet smell) सभी दिशाओं में फैलाते हैं ! वे हमें आनंद से भर देते हैं।  यह विवाह और दावतों का मौसम है।

यह तब है जब इस धरती को Shri Ram Chandra (श्री राम चंद्र) के जन्म से honoured किया गया था !

वसंत में फिर से रामजी का राज्याभिषेक (coronation of Ramji) हुआ ! इसलिए वसंत (spring season) को मौसमों का राजा (King of Seasons) कहा जाता है।

वसंत (Basant ritu) के सुख कई हैं ! यदि हम पहाड़ों पर जाते हैं तो हम प्रकृति (nature in it’s naked form) का आनंद ले सकते हैं !

प्रकृति में सब कुछ सर्दियों के बाद आदमी से अछूता रहता है ! Towns और शहरों में, कैलेंडर वसंत के आने को बताता है ! लेकिन गाँवों में खेत बताते हैं कि वसंत आ गया है।

यह प्यारा मौसम हमें ईश्वर के प्रति कृतज्ञता की भावना से भर देता है ! वसंत वह मौसम है जिसमें प्रकृति की आवाज हर जगह सुनाई देती है।

Also Read :

Essay on Rainy Season in Hindi

Essay on Autumn Season in Hindi

Essay on Winter Season in Hindi

Essay on Summer Season in Hindi

Essay on Mango in Hindi

Essay about Spring Season in Hindi

Basant ritu par Nibandh : 3

भारत में, हमारे पास एक वर्ष में छह मौसम होते हैं (6 Seasons in India), प्रत्येक मौसम में दो महीने होती है ! वसंत सबसे pleasant मौसम है !

यह सभी को पसंद आता है। इस मौसम में कोई piercing गर्मी, chilling ठंड या बारिश नहीं है ! यह सबसे अच्छा मौसम है ! इस मौसम में nature flourish करती है।

पृथ्वी एक हरे रंग की पोशाक पहनती है ! खेतों को पीले फूलों से सजाये जाते हैं।  सभी बाहर के जीवन में interest लेते हैं !

ठंड के काटने के बाद हम वसंत के मौसम (Spring season) में राहत महसूस करते हैं ! हर पौधे या पेड़ को एक नया जीवन (fresh life) मिलता है।

इस मौसम में हर कोई खुश रहता है ! किसान अपनी फसलों की वृद्धि को देखकर खुश है।  प्रकृति का आनंद लेने के लिए कवि खुश है ! Severe cold  से राहत पाकर गरीब भी खुश है !

अगर हम प्रकृति का अध्ययन करें, हम बारिश के मौसम और वसंत के मौसम के बीच एक नया संबंध पा सकते हैं !  ये दो मौसम हैं जब प्रकृति का हर पौधा तेजी से बढ़ता है !

कुछ पौधे वसंत के मौसम में फलों की प्रक्रिया (fruit processing) के लिए बढ़ते हैं जबकि others वर्षा ऋतु में बढ़ते हैं।

Thus, वसंत का मौसम (Spring Season in Hindi),

बहुत ही मनमोहक होता है ! यह हमें खुशी और आनंद देता है।  पेड़ ताजे और प्यारे लगते हैं ! वे अपनी खोई हुई पत्तियों को वापस पा लेते हैं।  पक्षी प्रकृति के संगीत का आनंद लेते हैं !

वे सुबह-सुबह ही चहकने लगते हैं ! जो पक्षी सर्दियों का मौसम में दुर्लभ होते थे, अब उन्हें हर steps पर देखा जा सकता है !

प्रकृति हमारी भूखी आँखों को भव्य दावत देती है ! यह हमें आकर्षक वातावरण के साथ भाग लेने और आनंद लेने के लिए आमंत्रित करता है !

ठंडी हवा हमें outing करने के लिए प्रोत्साहित करती है ! फूलों की कलियाँ हमें आकर्षित करती हैं ! फूल सभी दिशाओं में अपनी मीठी गंध फैलाना शुरू करते हैं ! वे हमें आनंद और spirit से भर देते हैं।

यह शादियों और दावतों का भी मौसम है।  इन कार्यों को celebrate करने के लिए इस मौसम को ज्यादातर चुना जाता है। होली (Holi) हमें एक happy company का आनंद लेने की याद दिलाती है।

होली के साथ, हम प्रकृति में विभिन्न रंगों को अलग-अलग फूलों और नई पत्तियों देख सकते हैं।

जब राम का राज्याभिषेक हुआ (coronation of Ram),

तो वह वसंत का मौसम था ! हमारी अलग-अलग फसलें, अलग-अलग फल, पौधों में अलग-अलग रंग इस मौसम में होती हैं !   वास्तव में, इस ऋतु की प्रशंसा कवियों ने की है ! वे इसे “ऋतुओं की रानी” कहते हैं !

वसंत के आनंद, हम एक गाँव में ले सकते हैं ! हम वहां प्रकृति के सीधे संपर्क (Direct touch) में आ सकते हैं ! अलग-अलग फल और सब्जियां- भूमिगत और जमीन पर आपको greetings  करने के लिए उपलब्ध हैं।

हरे और पीले खेतों का नजारा हमारे दिलों को उम्मीद से भर देते है !   खेत हमें एक अच्छा crop देने का वादा करते हैं ! यह प्यारा मौसम हमें ईश्वर के प्रति कृतज्ञता की भावना से भर देता है।

यह वह मौसम है जिसमें प्रकृति की आवाज़ या प्रकृति की उपस्थिति को हर जगह सुना या महसूस किया जा सकता है।

10 Lines Summary on Spring Season in Hindi

वसंत ऋतु पर 10 लाइनें सारांश

Essay on spring season in Hindi
  • Save

1. भारत में वसंत का मौसम (Spring season in Hindi) मार्च, अप्रैल और मई के महीनों में सर्दियों (Winter) और गर्मियों के मौसम (Summer season) के बीच आता है।

2. यह सभी मौसमों के राजा के रूप में जाना जाता है और प्रकृति की युवावस्था (Youthfulness of Nature) के रूप में प्रसिद्ध है।

3. हर उम्र के लोग इस मौसम की अपनी सुंदरता, थोड़ी शांति और relaxed nature की वजह से पसंद करते हैं।

4. यह मार्च के महीने में शुरू होता है और मई के महीने में समाप्त होता है।

5. वसंत के मौसम (Basant ritu) के आगमन के साथ पृथ्वी पर सब कुछ enchanting और आकर्षक लगता है।

6. सभी वृक्ष नई पत्तियों से आच्छादित होते हैं, फूल खिलने लगते हैं और पक्षी पेड़ों की शाखाओं पर गाना शुरू करते हैं।

7. वसंत ऋतु फूलों और त्यौहारों का मौसम है और इस प्रकार बहुत सारी खुशियाँ लाता है।

8. रंगीन और सुंदर फूल पूरी तरह से लोगों का दिल जीतते हैं और कवियों की प्रेरणा के रूप में काम करते हैं।

9. सुंदर तितलियाँ एक पेड़ से दूसरे पेड़ पर सुबह और शाम अक्सर उड़ती हैं।

10. वसंत की वास्तविक सुंदरता हमारे स्वास्थ्य का पोषण करती है और हम जीवन के सभी दुखों को भूल जाते हैं।

FAQ’s about Spring Season in Hindi

1. वसंत के मौसम में उगाई जाने वाली सब्जियां (Name of Vegetables) क्या हैं?
= वसंत ऋतु में मुख्य रूप से गाजर, चुकंदर, टमाटर, ब्रोकोली, fennel, बीन्स, पालक, मिर्च, आलू, लहसुन, प्याज etc. की खेती की जाती है।

2. वसंत में उगाए जाने वाले फल (Name of Fruits) कौन से हैं?
= एवोकैडो, अंगूर, नींबू, स्ट्रॉबेरी, चेरी, केला, कीवी फल, सेब etc.

3. वसंत में कौन से फूल blooming शुरू करते हैं?
= गुलाब, मीठे मटर, ट्यूलिप, डैफोडील्स, कैमेलिया, हायसीनथ्स, प्रिमरोज़ etc.

4. वसंत ऋतु में कौन से त्योहार मनाए जाते हैं?
= वसंत पंचमी, होली, चैत्र नवरात्रि, गुड़ी पड़वा, गंगौर, बिहू etc.

5. वसंत के मौसम में average तापमान क्या होता है?
= 21-25 ° C

6. उत्तरी और दक्षिणी गोलार्ध (North & South Hemisphere) में वसंत का मौसम किस महीने से शुरू होता है?
= उत्तरी गोलार्ध में, यह मार्च (March) ;
दक्षिणी गोलार्ध में, यह सितंबर (September) से शुरू होता है ।

Also Read:

70+ All Vegetables Name in Hindi-English

50+ All Fruits Name in Hindi-English

Indian 6 Seasons Name in Hindi

8 Planets Name in Hindi-English

In conclusion:

तो, आज हमने  “Essay about Spring Season in Hindi (वसंत के मौसम पर निबंध)” के बारे में सीखा ।  मुझे उम्मीद है कि आपको “Basant Ritu par Nibandh (basant ritu hindi essay)” पोस्ट पसंद आई होगी।  अगर आपको यह पसंद आया, तो इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ share करें।

अगर आप कोई सुझाव देना चाहते हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें।  और अगर आप ऐसे आर्टिकल हिंदी में पढ़ना चाहते हैं तो इसे subscribe करें।

धन्यवाद…

Reference Source: WIKIPEDIA

Hello Friends, My name is Biswanath Samui. Welcome to my blog @ tophindistories.com. tophindistories.com is one of the Hindi Educational Website, where you will get amazing Hindi Stories, Hindi Essays, List in Hindi and English, Interesting Facts in Hindi and many more educational content. Let's enjoy our articles. ✌✌✌ Thank you...

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap